तत्कालीन पुलिस निरीक्षक (आर्वजन) एवं तीन प्राइवेट व्‍यक्तियों को दो वर्ष की कठोर कारावास

प्रेस विज्ञप्ति
नई दिल्ली, 05.10.2017

सीबीआई मामलों के विशेष न्यायाधीश, अहमदाबाद (गुजरात) ने एस.वी.पी. अन्‍तर्राष्‍ट्रीय हवाई पत्‍तन, अहमदाबाद के तत्‍कालीन पुलिस निरीक्षक (आर्वजन) श्री गोविन्‍द भाई जे. चौधरी तथा तीन प्राइवेट व्‍यक्ति यथा आशिक हुसैन अली ओनवाला, मो. सिद्दीकी अब्‍दुल गनी मर्चेन्‍ट और जयेश रामभाई पटेल को दोषी ठहराया तथा उन्‍हे 10,000 रू. प्रत्‍येक पर जुर्माने सहित 02 वर्ष की कठोर कारावास की सजा सुनाई।

सीबीआई ने एस.वी.पी. अन्‍तर्राष्‍ट्रीय हवाई पत्‍तन, अहमदाबाद के तत्‍कालीन पुलिस निरीक्षक (आर्वजन), श्री गोविन्‍द भाई जे. चौधरी एवं अन्‍यों के विरूद्ध मामला दर्ज किया। ऐसा आरोप था कि आरोपियों ने यात्रियों की आर्वजन मंजूरी को पूरा नही किया एवं आर्वजन मंजूरी में इन परनामधारियों को अनुमति दे दी।

जॉंच के पश्‍चात, सीबीआई की अदालत संख्‍या-2, अहमदाबाद के समक्ष आरोपियों के विरूद्ध भारतीय दण्‍ड संहिता की धारा 120-बी, 109, 419 एवं भ्रष्‍टाचार निवारण अधिनियम, 1988 की धारा 13(2) के साथ पठित धारा 13(1)(डी) के तहत दिनांक 31.05.2001 को आरोप पत्र दायर हुआ।

विचारण अदालत ने आरोपी व्‍यक्तियों को कसूरवार पाया एवं उन्‍हे दोषी करार दिया।

********