सीबीआई ने व्यापम घोटाले से सम्बन्धित मामले में एक चिकित्सा अधिकारी को गिरफ्तार किया

प्रेस विज्ञप्ति
नई दिल्ली, 12.01.2018

सीबीआई ने हैदरगढ़, जिला बाराबंकी (उत्तर प्रदेश) से व्यापम घोटाले से सम्बन्धित मामले में एक चिकित्सा अधिकारी को गिरफ्तार किया जो कि फरार था।

व्यापम मामलों के विशेष न्यायाधीश, भोपाल के समक्ष एम.पी.पी.एम.टी.-2012 से जुड़े व्यापम से सम्बन्धित मामले में दिनांक 23.11.2017 को आरोपी के विरूद्ध आरोप पत्र दायर हुआ। मामले का संज्ञान लेने के पश्चात, विचारण अदालत ने आरोपित फरार अभियुक्त के विरूद्ध गैर-जमानती वारन्ट जारी किया। इसके अनुसरण में, आरोपी, जो कि सी.एच.सी. जट्टुवा टप्पा, जिला रायबरेली (उत्तर प्रदेश) में चिकित्सा अधिकारी के तौर पर तैनात था, को गिरफ्तार किया।

जॉंच से पता चला कि आरोपी, सह-आरोपी मध्यस्थ व्यक्ति और रैकेट संचालक के साथ षड़यंत्र में इन्दौर में स्थित परीक्षा केन्द्र पर एम.पी.पी.एम.टी.-2012 में उपस्थित हुआ और अपने उत्तरों को उसे कॉपी (नकल) करा कर सह-आरोपी (लाभार्थी उम्मीदवार) की मदद की। यह भी पता चला कि वर्ष 2012 में, उक्त आरोपी गर्वनमेन्ट मेडिकल कालेज, कानपुर (प्रवेश वर्ष 2008) का एम.बी.बी.एस. पाठ्यक्रम का छात्र था और उसका मध्य प्रदेश के किसी प्राइवेट मेडिकल कालेज में एम.बी.बी.एस. पाठ्यक्रम में प्रवेश लेने का इरादा नही था तथा उसका इरादा केवल लाभार्थी उम्मीदवार को कथित रूप से कॉपी (नकल) में मदद पहुँचाना था।

ऐसा आगे आरोप था कि सह-आरोपी मध्यस्थ व्यक्ति एवं प्राइवेट मेडिकल कालेज, भोपाल की मिलीभगत में, आरोपी ने भोपाल के उक्त प्राइवेट मेडिकल कालेज की एम.बी.बी.एस. पाठ्यक्रम की सीट रोके रखी व बाद में उक्त सीट खाली कर दी, जिस सीट को उक्त मेडिकल कालेज ने बिना किसी उचित प्रक्रिया के भर ली।

गिरफ्तार आरोपी को भोपाल की नामित अदालत में पेश किया जाएगा।

********