सीबीआई ने नोयडा प्राधिकरण के तत्‍कालीन चीफ मेन्‍टेनेन्‍स इन्‍जीनियर एवं अन्‍यों के विरूद्ध मामला दर्ज किया एवं तलाशी ली

 

प्रेस विज्ञप्ति
नई दिल्ली, 19.01.2018

सीबीआई ने भारतीय दण्ड संहिता की धारा 120-बी के साथ पठित भ्रष्‍टाचार निवारण अधिनियम, 1988 की धारा 13(2) के साथ पठित धारा 13(1)(बी) एवं 13(1)(डी) के तहत नोयडा प्राधिकरण (उत्‍तर प्रदेश) के तत्‍कालीन मेन्‍टेनेन्‍स इन्‍जीनियर (सी.एम.ई.) ; नोयडा स्‍थित प्राइवेट इन्‍जीनियर्स कम्‍पनी के मालिक ; दिल्‍ली स्‍थित प्राइवेट टेक्‍नॉलाजी कम्‍पनी के तीन निदेशकों ; नोयडा स्‍थित एक अन्‍य प्राइवेट इफ्राकॉन कम्‍पनी के दो निदेशकों ; नोयडा की ही एक अन्‍य प्राइवेट इलैक्‍टीकल्‍स फर्म के मालिक ; रॉची स्‍थित प्राइवेट प्रोजेक्‍ट्स फर्म के मालिक एवं नोयडा प्राधिकरण के अज्ञात अधिकारियों/ कर्मियों के विरूद्ध मामला दर्ज किया जिसमें ठेकों के आवंटन के दौरान उक्‍त ठेकेदारों/ फर्मों से नोयडा प्राधिकरण के तत्‍कालीन चीफ मेन्‍टेनेन्‍स इन्‍जीनियर के द्वारा आपराधिक षड़यंत्र एवं आधिकारिक स्थिति के दुरूपयोग के साथ ही साथ नियमित तौर पर घूस स्‍वीकार करने का आरोप है। ऐसा भी आरोप था कि तत्‍कालीन चीफ मेन्‍टेनेन्‍स इन्‍जीनियर (सी.एम.ई.) ने नोयडा प्राधिकरण के अन्‍य अधिकारियों/ कर्मियों के साथ ही साथ उक्‍त ठेकेदारों के साथ षड़यंत्र में नोयडा प्राधिकरण के निविदा मानदण्‍डों एवं प्रक्रियाओं के बड़े पैमाने पर उल्‍लंघन में पॉंच कम्‍पनियों/ फर्मों को 116.39 करोड़ रू. मूल्‍य के कई ठेके आवंटित कर दिए। इससे नोयडा प्राधिकरण को भारी हानि हुई एवं इसी अनुरूप में ठेकेदारों/फर्मों को लाभ हुआ।

दिल्‍ली, नोयडा एवं रॉची सहित 8 स्‍थानों पर आज तलाशी की जा रही है।        
आगे की जॉंच जारी है।

 

********