सीबीआई ने मध्‍य प्रदेश स्थित पंजाब नेशनल बैंक की शाखाओं के 22 ऋणों से सम्‍बन्धित धोखाधड़ी के मामले में 6 राज्‍यों में 47 स्‍थानों पर तलाशी ली

प्रेस विज्ञप्ति
नई दिल्ली, 20.01.2018

सीबीआई ने बैंक की शिकायत पर भोपाल एवं उज्‍जैन (मध्‍य प्रदेश) की 04 शाखाओं से सम्‍बन्धित पंजाब नेशनल बैंक के कुछ कर्मियों सहित मुख्‍य प्रबन्‍धक एवं अन्‍य आरोपियों के विरूद्ध 22 मामले दर्ज किए।

बैंक द्वारा की गई शिकायत में ऐसा आरोप था कि बैंक के कुछ कर्मियों ने वर्ष 2011 से 2016 के दौरान कोयला के व्‍यवसाय से जुड़े प्राइवेट व्‍यक्तियों को कपटपूर्ण तरीके से ऋणों को मंजूर एवं भुगतान किया। ऐसा आरोप था कि जमानती प्रति-भूतियों का मूल्‍यांकन बढ़ा-चढ़ा कर पेश करते हुए ऋणों को मंजूर कर दिया। उक्‍त ऋणियों ने इसके पश्‍चात, प्राप्‍त लाभ को बैंक में जमा किए बिना ही प्राथमिक प्रतिभूति का निपटारा कर दिया, इससे बैंक को 80 करोड़ रू. (लगभग) की कथित हानि हुई ।
भोपाल, उज्‍जैन, इन्‍दौर तथा विदिशा (मध्‍य प्रदेश) ; कैथल एवं गुरूग्राम (हरियाणा) ; होशियारपुर (पंजाब) ; नोयडा एवं आगरा (उत्‍तर प्रदेश) ; मुम्‍बई (महाराष्‍ट्र) तथा दिल्‍ली स्थित आरोपी व्‍यक्तियों के 47 कार्यालयी एवं आवासीय परिसरों में तलाशी की गई। इन तलाशियों में आपत्तिजनक दस्‍तावेज, स्‍टैम्‍प्‍स, हार्ड डिस्‍क तथा बैंक लॉकरों के विवरण बरामद हुए।

आगे की जॉंच जारी है।

********