सीबीआई ने घूसखोरी के एक मामले में पंजाब परिवहन विभाग के अधीक्षक एवं एक कर्मी को गिरफतार किया।

प्रेस विज्ञप्ति
नई दिल्ली, 22.01.2018

सीबीआई ने एक लाख रूपये की घूसखोरी के मामले में पंजाब परिवहन विभाग,चण्‍डीगढ़ में कार्यरत अधीक्षक एवं एक लिपिक  को आज गिरफ्तार किया। 
सीबीआई ने एक शिकायत पर मामला दर्ज किया जिसमें पंजाब परिवहन विभाग, चण्‍डीगढ़ में कार्यरत आरोपी के द्वारा घूस की मॉंग का आरोप है। ऐसा आरोप था कि शिकायतकर्ता जो कि उसी विभाग का कर्मचारी भी है, को कुछ आरोपों के आधार पर बर्खास्‍त कर दिया गया तथा वह अपनी बर्खास्‍तगी को रद्द कराने के लिए पंजाव परिवहन विभाग, चण्‍डीगढ़ के विशेष सचिव कार्यालय पहुँचा। ऐसा भी आरोप था कि विशेष सचिव, पंजाब सरकार, परिवहन विभाग ने बर्खास्‍तगी का आदेश रद्द कर दिया और इसके अतिरिक्‍त पुन: जाँच करने हेतु निर्देश दिया। ऐसा आगे आरोप था कि परिवहन विभाग के अधीक्षक एवं लिपिक जो कि शिकायतकर्ता की फाइल का मामला देख रहे थे, ने उसके मामले के निपटारे हेतु शिकायतकर्ता से 1.5 लाख रू. की घूस की मॉंग की। आरोपियों ने उसे बताया कि घूस न देने की अवस्‍था में, शिकायतकर्ता के विरूद्ध आदेश जारी हो जाएगा। हालॉकि, बार-बार निवेदन पर, घूस राशि घटा कर एक लाख रू. कर दी गई। सीबीआई ने जाल बिछाया जिसमें दोनो कर्मी 50,000 रूपये प्रत्‍येक की घूस राशि की मॉंग व स्‍वीकार करने के दौरान रंगे हाथ पकड़े गए। चण्‍डीगढ़ एवं मोहाली (पंजाब) में दोनो आरोपियों के आवास पर आज तलाशी की जा रही है।

गिरफ्तार दोनो आरोपियों को चण्‍डीगढ़ की नामित अदालत के समक्ष कल पेश किया जायेगा।

********