सीबीआई ने घूसखोरी के मामले में रेलवे सुरक्षा बल के उप-निरीक्षक को गिरफतार किया।

प्रेस विज्ञप्ति
नई दिल्ली, 23.01.2018

सीबीआई ने शिकायतकर्ता से 6,500 रूपये की घूस की मॉंग करने व स्‍वीकारने पर रेलवे सुरक्षा बल, सिमालूगुड़ी (असम) के उप-निरीक्षक को गिरफ्तार किया।

भ्रटाचार निवारण अधिनियम, 1988 की धारा 7 के तहत एक मामला दर्ज  हुआ जिसमें आरोप है कि उप-निरीक्षक ने शिकायतकर्ता के वाहन, जिससे बिहूबरी रोड, सिमालूगुड़ी स्‍थित रेलवे फाटक का बैरीकेड टूट गया था, को छोड़ने के लिए 10,000 रू. की घूस की मॉंग की। ऐसा भी आरोप था कि उस स्‍थान पर तैनात आर.पी.एफ. कर्मी ने उक्‍त ट्रक (डम्‍पर) को जब्‍त कर लिया था। शिकायतकर्ता ने उक्‍त जब्‍त ट्रक (डम्‍पर) को सिमालूगुड़ी रेलवे स्‍टेशन से छुड़ाने की कोशिश की लेकिन उप-निरीक्षक ने घूस की माँग की। सीबीआई ने जाल बिछाया एवं आरोपी को शिकायतकर्ता से घूस स्‍वीकार करने के दौरान रंगे हाथ पकड़ा। जयपुर (राजस्‍थान) ; मोरियानी, जिला- जोरहट (असम) एवं सिमालूगुड़ी (असम) सहित आरोपी के कार्यालयी और आवासीय परिसरों पर तलाशी की गई  जिसमें कुछ दस्‍तावेज बरामद हुए।

गिरफ्तार आरोपी को सीबीआई मामलों के विशेष न्‍यायाधीश, गुवाहाटी के समक्ष आज पेश किया जा रहा है।

********